दीवानों की हस्ती

Question
CBSEENHN8000587

निम्नलिखित पद्यांश को पढ़कर पूछे गए प्रश्नों के उत्तर दीजिए-
किस ओर चले? यह मत पूछो,
चलना है, बस इसलिए चले,
जग से उसका कुछ लिए चले,
जग को अपना कुछ दिए चले,

दो बात कही. दो बात सुनी;
कुछ हँसे और फिर कुछ रोए।
छककर सुख-दुख के घूँटों को
हम एक भाव सै पिए चले।

बलि वीरों की राह निश्चित क्यों नहीं है?

  • क्योंकि वे बिना लक्ष्य के आगे बढते हैं।
  • क्योंकि वे बिना-सोचे समझे चलते हैं।
  • क्योंकि उनका उद्देश्य अंग्रेजों को मात देना व स्वतंत्रता प्राप्त करने हेतु वहाँ मुड़ना पड़े वहाँ राहें मोड़ देना है।
  • क्योंकि उन्हें अंग्रेजी सरकार से बचना होता है।

Solution

C.

क्योंकि उनका उद्देश्य अंग्रेजों को मात देना व स्वतंत्रता प्राप्त करने हेतु वहाँ मुड़ना पड़े वहाँ राहें मोड़ देना है।

Sponsor Area