Sponsor Area

Question
CBSEENHN8001337

प्राचीन संस्कृति को मानते हुए जवाहरलाल नेहरू को महात्मा बुद्ध, अशोक व अकबर कैसे प्रतीत हुए?

Solution

प्राचीन सभ्यता का अध्ययन करने पर वर्तमान में भी जवाहरलाल नेहरू को ऐसा प्रतीत हुआ जैसे महात्मा बुद्ध अपना पहला उपदेश दे रहे हों, अशोक के स्तंभ व शिलालेख उसकी महानता उजागर कर रहे हो और अकबर आज भी विद्वानों के वाद-विवाद द्वारा लोगों की सामाजिक व धार्मिक समस्याओं को सुलझाने में लगा हो अर्थात् युगों बाद भी वे सजीव प्रतीत होते हैं।

Sponsor Area

Some More Questions From तलाश Chapter

कौन-कौन से स्थान के किले व मूर्तियाँ भारत की प्राचीन सभ्यता का सुंदर चित्र खींचती हैं?

विशाल पर्व कुंभ स्नान पर्व के बारे में नेहरू जी के क्या विचार थे?

प्राचीन संस्कृति को मानते हुए जवाहरलाल नेहरू को महात्मा बुद्ध, अशोक व अकबर कैसे प्रतीत हुए?

‘भारत के अतीत की झाँकी’ के अवलोकन से नेहरु क्या निष्कर्ष निकालते हैं?

क्या नेहरू जी का भारत के इतिहास का एक आलोचक की भाँति निरीक्षण करना सही था?

नेहरू जी ने भारत का विश्लेषण एक आलोचक की भाँति क्यों किया?

मोहनजोदड़ो वर्ष कितने वर्ष पूर्व निर्मित हुआ?

सिंधु घाटी की क्या विशेषता थी?

हिमालय के ह्रदय से कौन-कौन सी नदियाँ निकलती हैं 

सिंधु नदी का दूसरा नाम क्या है?