बल तथा गति के नियम

  • Question
    CBSEHHISCH9007016

    200 g द्रव्यमान की एक हॉकी की गेंद 10 ms-1 की वेग से सीधी रेखा में चलती हुई 5 kg द्रव्यमान के लकड़ी के टुकड़े से संघट्ट के बाद के कुल संवेगों की गणना करें। दोनों वस्तुओं की जुडी हुई अवस्था के वेग की गणना करें।

    Solution

    यहाँ,    
    हॉकी की गेंद का द्रव्यमान (m1) = 200 g = 0.2 kg
    गुटके का द्रव्यमान (m2) = 5 kg
    गेंद की प्रारंभिक वेग (u1) = 10 ms-1
    गेंद की अंतिम वेग (v) = - 5 ms-1
    गुटके का वेग (u2) = 0
    माना कि संयुक्त पिंड V वेग से गति करता है।
    संघट्ट के पहले कुल संवेग, m1u1 + m2u2
    = 0.2 x 10 + 5 x 0
    = 2 kg-ms-1
    संघट्ट के बाद, कुल संवेग = (m1 + m2)V
    = 5.2 Vkg-ms-1
    संवेग संरक्षण के नियम से,
    संघट्ट के पूर्व संवेग = संघट्ट के बाद संवेग
    2 = 5.2V
    straight V space equals space fraction numerator 2 over denominator 5.2 end fraction space equals space 0.38 space ms to the power of negative 1 end exponent
    अत: संघट्ट के पहले तथा बाद में, दोनों दशाओं में कुल संवेग = 2 kg-ms-1
    तथा संघट्ट के बाद जुडी अवस्था में वेग = 0.38 ms-1

    NCERT Book Store

    NCERT Sample Papers

    Entrance Exams Preparation