Sponsor Area

Question
CBSEENHN8001369

भारत की शक्तियों का हास होने पर भी लेखक का क्या मत है?

Solution

भारत की शक्तियों का पतन होने पर भी लेखक का मत है कि भले ही भारत का प्राचीन बाहरी ढाँचा ही बचा हो लेकिन उसके अंदर निरंतर बदलाव आते रहे। यही कारण था कि भारत ने अपना अस्तित्व न खोया, उसकी निरंतरता सदैव बनी रही।

Sponsor Area