विद्युत धारा के चुंबकीय प्रभाव

  • Question 5
    CBSEHHISCH10015285

    मेज़ के तल में पड़े तार के वृत्ताकार पाश पर विचर कीजिये। मान लीजिये इस पाश में दक्षिणावर्त विद्युत धारा प्रवाहित हो रही है। दक्षिण-हस्त अंगुष्ठ नियम को लागु करके पाश के भीतर तथा बाहर चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा ज्ञात कीजिये। 

    Solution

    यदि मेज़ के तल में तार का वृत्ताकार पाश पड़ा है और इसमें दक्षिणावर्त विद्युत धारा प्रवाहित हो रही है तो दक्षित हस्त अंगुष्ठ नियम द्वारा चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा तल के लम्बवत ऊपर से नीचे की तरफ होगी। पाश के बाहर चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा पाश के लम्बवत नीचे से ऊपर की ओर होगी। 

    Question 6
    CBSEHHISCH10015286

    किसी दिए गए क्षेत्र में चुम्बकीय क्षेत्र एकसमान है। इसे निरूपित करने के लिए आरेख खींचिए।

    Solution

    एकसमान चुम्बकीय क्षेत्र B को दर्शाने के लिए सामान दूरी वाली रेखाओं से निरूपित किया जाएगा।

    Question 7
    CBSEHHISCH10015287

    किसी विद्युत् धारावाही सीढ़ी लम्बी परिनालिका के भीतर चुम्बकीय क्षेत्र -

    • शून्य होता है।

    • इसके सिरे की ओर जाने पर घटता है।

    • इसके सिरे की ओर जाने पर बढ़ता है।

    • सभी बिंदुओं पर सामान होता है। 

    Solution
    Question 8
    CBSEHHISCH10015288

    किसी प्रोटोन का निम्नलिखित में से कौन-सा गुण किसी चुम्बकीय क्षेत्र में मुक्त गति करते समय परिवर्तित हो जाता है? ( यहां एक से अधिक सही उत्तर हो सकते हैं )। 

    • द्रव्यमान 

    • चाल 

    • वेग

    • संवेग

    Solution
    सही विकल्प (c) और (d) हैं। चुम्बकीय बल प्रोटोन की गति पर लंबवत कार्य करता है। यह प्रोटोन के द्रव्यमान और चाल को प्रभावित नहीं करता, वेग और संवेग को प्रभावित करता है। 

    Delhi University

    NCERT Book Store

    NCERT Sample Papers

    Entrance Exams Preparation