विदुयत

  • Question 9
    CBSEHHISCH10015244

    मान लीजिए किसी विद्युत अवयव के दो सिरों के बीच विभवांतर को उसके पूर्व के विभवांतर की तुलना में घटाकर आधा कर देने पर भी उसका प्रतिरोध नियत रहता है तब उसके अवयव से प्रभावित होने वाले विद्युत धारा में क्या परिवर्तन होगा?

    Solution
    ओम के नियम के अनुसार,
    अर्थात्, V α I
    V = RI
    इसलिए, जब संभावित अंतर आधा हो जाता है, तो उनमें प्रवाहित विद्युत् धारा भी घटकर आधी हो जाती है। परन्तु प्रतिरोध में कोई बदलाव नहीं होगा।
    Question 10
    CBSEHHISCH10015245

    विद्युत टोस्टरो तथा विद्युत इस्तरियो  के तापन अवयव शुद्ध धातु के न बनाकर किसी मिश्र धातु के क्यों बनाए जाते हैं?

    Solution

    विद्युत टोस्टरो तथा विद्युत इस्तरियो  के तापन अवयव शुद्ध धातु के न बनाकर किसी मिश्र धातु के बनाए जाते हैं इसके निम्न लिखित कारण हैं-

    1. मिश्र धातुओं में अपने घटक धातुओं की तुलना में उच्च प्रतिरोधकता है
    2. मिश्रित धातु उच्च तापमान पर आसानी से ऑक्सीकरण (या जला) नहीं करते हैं।
    3.इसका गलनांक अधिक होता हैं। 

    Question 11
    CBSEHHISCH10015246

    निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तालिका में दिए गए आंकड़ों के आधार पर उत्तर दीजिए-


    (a) आयरन (Fe) तथा मरकरी (Hg) में कौन सा अच्छा विद्युत चालक हैं।
    (b)कौन सा पदार्थ सर्वश्रेष्ठ चालक हैं।

    Solution

    ऊपर दी गई तालिका के अनुसार-

    (a) लोहा की प्रतिरोधकता = 10.0 x 10-8 Ω m

    पारा की प्रतिरोधकता = 94.0 x 10-8Ω m
    चूंकि लोहा की प्रतिरोधकता पारा की तुलना में कम है इसलिए लोहा पारा से बेहतर कंडक्टर है।

    (b) जैसा कि, चांदी में सबसे कम प्रतिरोधकता (= 1.60 x 10-8 Ω मीटर) है, इसलिए चांदी सबसे अच्छा कंडक्टर है।

    Question 12
    CBSEHHISCH10015247

    किसी विद्युत परिपथ की व्यवस्था आरेख खींचिये तथा जिसमे के तीन सैलो की बैटरी, एक 5Ω प्रतिरोधक, एक 8Ω प्रतिरोधक, एक 12Ω प्रतिरोधक, तथा एक प्लग कुंजी सभी श्रेणीक्रम में संयोजित हों 

    Solution

    NCERT Book Store

    NCERT Sample Papers

    Entrance Exams Preparation