विदाई - संभाषण

  • Question 9
    CBSEENHN11012018

    कर्जन को इस्तीफा क्यों देना पड़ गया?

    Solution

    लॉर्ड कर्जन ने एक फौजी अफसर को अपनी इच्छा के पद पर रखना चाहा था, पर ब्रिटिश सरकार ने उनकी बात नहीं मानी। इस अफसर को उनके इच्छित पद पर न रखा गया। लॉर्ड कर्जन ने गुस्से में आकर इस्तीफा दे दिया। उन्हींने सोचा कि शायद इस्तीफे की धमकी काम करा देगी। पर ब्रिटिश सरकार ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया, और उनकी बात नहीं मानी। लॉर्ड कर्जन का भारी अपमान हुआ और उन्हें भारत छोड्कर जाना पड़ा।

    Question 10
    CBSEENHN11012019

    बिचारिए तो, क्या शान आपकी इस देश में थी और क्या हो गई! कितने ऊँचे होकर आप कितने नीचे गिरे! - आशय स्पष्ट कीजिए।

    Solution

    इस कथन का आशय यह है कि यह विचारने की बात है कि लॉर्ड कर्जन की शान-शौकत सर्वोच्च स्तर पर थी। वे सबसे ऊँचे थे, शेष सभी उनसे नीचे थे। सेवा काल के अंत में उनका पतन हो गया। वे अपने ऊँचे पद से नीचे आ गिरे। उन्हें इस देश से चले जाने का हुक्म मिला। ब्रिटिश सरकार ने उनकी बात नहीं मानी। लॉर्ड कर्जन की बड़ी किककिरी हुई।

    Question 11
    CBSEENHN11012020

    आपके और यहाँ के निवासियों के बीच कोई तीसरी शक्ति भी है-यहाँ तीसरी शक्ति किसे कहा गया है?

    Solution

    आपके से तात्पर्य लॉर्ड कर्जन से है तथा यहाँ के निवासी भारत के निवासी हैं। इनके बीच तीसरी शक्ति है-ब्रिटिश सरकार। वही इन दोनों शक्तियों (लॉर्ड कर्जन और भारत की प्रजा) को नियंत्रित कर रही थी। उस शक्ति पर न तो भारतवासियों का काबू था और न लॉर्ड कर्जन का। वह शक्ति सर्वोच्च शक्ति थी।

    Question 12
    CBSEENHN11012021

    पाठ का यह अंश ‘शिवशंभु के चिट्ठे’ से लिया गया है। शिवशंभु नाम की चर्चा पाठ में भी हुई है। बालमुकुंद गुप्त ने इस नाम का उपयोग क्यों किया होगा?

    Solution

    बालमुकुंद गुप्त के समय में प्रेस की स्वाधीनता पर प्रतिबंध लगा हुआ था। भारत के लोग खुलेआम अपने नाम से ब्रिटिश सरकार और उसके अधिकारियों का विरोध नहीं कर पाते थे। बालमुकुंद गुप्त ने इसकी यह युक्ति निकाली कि वे शिवशंभु के चिट्ठे शीर्षक से अपनी बात जनता तक तथा ब्रिटिश अफसरों तक पहुचाएँ। इससे वे स्वयं सीधी कार्यवाही से बच जाते होंगे। इसीलिए उन्होंने इस नाम का उपयोग किया होगा।

    NCERT Book Store

    NCERT Sample Papers

    Entrance Exams Preparation